आई दहशतगर्दी की आंच तो टूटी नींद, सेना ने 24 घंटे में ही मार गिराए 100 आतंकी

Read Also : पाकिस्तान में दरगाह पर मुसलमानों द्वारा हमला, करीब 100 लोगों की मौत

इस्लामाबाद : इस्लामिक मुल्क पाकिस्तान में सिंध प्रांत के सेहवान शरीफ स्थित लाल शाहबाज कलंदर की दरगाह पर आत्मघाती हमले के बाद मुस्लिम आतंकवादियों के खिलाफ पिछले 24 घंटे के दौरान पंजाब प्रांत समेत विभिन्न हिस्सों में सेना द्वारा चलाये गए स्पेशल आर्मी अभियान में 100 से अधिक आतंकवादी ढेर हो गए है।

मुस्लिम राष्ट्र पाकिस्तान के समाचारपत्र ‘डॉन’ ने सेना के इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशन के हवाले से बताया कि, ‘ खुफिया एजेंसियों ने हाल में हुए आतंकवादी हमलों के पीछे नेटवर्क को उजागर करने में सफलता हासिल की है। ‘

loading...

Read Also : विश्व में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन जाएगा भारत, चीन और पाकिस्तान छूट जाएंगे पीछे

पाकिस्तानी सेना ने अपने वक्तव्य में दावा किया कि अफगानी सीमा पर काम करने वाले आतंकवादी समर्थक नेटवर्कों का लिंक पता लगाने में कामयाबी हासिल की है। वक्तव्य में कहा गया, ‘ सुरक्षा कारणों से शुक्रवार देर रात से सीमा को बंद कर दिया गया है। अफगानिस्तान से पाकिस्तान में अवैद्य रूप से प्रवेश या सीमा पार प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। ‘ वक्तव्य के मुताबिक सीमा पर सुरक्षा बलों को कड़ी निगरानी रखने के लिए विशेष आदेश दिए गए हैं।

सरकार-सेना-प्रशासन इसलिए आया हरकत में : गौरतलब है कि शहबाज कलंदर की दरगाह पर गुरुवार को हुआ आत्मघाती आतंकवादी हमला पिछले कुछ वर्षों में पाकिस्तान में हुए सर्वाधिक घातक हमलों में से एक है। इसमें करीब 100 के लगभग लोगों की मौत हो गई जबकि 250 लोग घायल हुए हैं।

Read Also : गणतंत्र दिवस पर यूएई के शहजादे बतौर मुख्य अतिथि आए, तो पाकिस्तानी मीडिया बौखलाई

इस बीच मुस्लिम राष्ट्र पाकिस्तानी के अधिकारियों ने मुस्लिम राष्ट्र अफग़़ानिस्तान को 76 मोस्ट वॉन्टेड अतिवादियों की सूची सौंपी है जिन्होंने अफग़़ानिस्तान में शरण ली है।

पीएम-सेना प्रमुख ने लिया जायज़ा  : पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने शहवान पहुंचकर घटना का जायजा लिया। शहर के वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारियों ने शहर की स्थिति के बारे में उन्हें जानकारी दी। बाद में दोनों घायलों से मिलने नवाबशाह भी गए। सिंध प्रांत के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह भी गुरूवार की रात अपने निर्वाचन क्षेत्र शहवान पहुंचे, जहां यह हादसा हुआ था।

Read Also : डोनाल्ड ट्रंप बने पाकिस्तान के लिए खतरे की घंटी, कहा “मोदी और ट्रम्प मिलकर न जाने क्या करेंगे”

देश भर में चला अभियान : रिपोर्ट के मुताबिक मुस्लिम आतंकियों के खात्मे के लिए देशभर में पूरी रात अभियान चलाया गया। सेना अधिकारियों ने आतंकियों को नेस्तनाबूद करने तक अभियान जारी रहने की बात कही है।

इस्लाम रक्षक संघठन आईएस ने ली है ज़िम्मेदारी : पैरामिलिट्री सिंध रेंजर्स ने बताया कि प्रांत में रातभर चले अभियान में चार दर्जन से ज्यादा मुस्लिम आतंकियों को मौत के घाट उतारा गया। इस हमले की जिम्मेदारी इस्लाम रक्षक संघठन इस्लामिक स्टेट ने ली है।

दूसरी तरफ खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की पुलिस ने तीन दर्जन मुस्लिम आतंकियों को मारने का दावा किया है। अधिकारियों के मुताबिक, कबायली क्षेत्र खुर्रम, बलूचिस्तान और पंजाब प्रांत के सरगोधा में भी कई मुस्लिम आतंकियों को मारने में सफलता मिली।

Read Also : बीजेपी केवल राम के नाम से वोट लेती रही उधर नवाज शरीफ पाकिस्तान में श्रीराम मंदिर बनवा रहे हैं।

विरोध में लोग उतरे सडकों पर : पाकिस्तान सेना अधिकारियों ने बताया कि मुस्लिम आतंकियों के खिलाफ यह अभियान आगे और भी तेज होगा क्योंकि सरकार ने इस्लाम आतंकवाद को जड़ से मिटाने का संकल्प लिया है। पाकिस्तान में मुस्लिम लोगों ने शुक्रवार को मुस्लिम आतंकी हमले के खिलाफ प्रदर्शन किया।

लोगों ने नागरिकों को सुरक्षा प्रदान करने में असफल रही सरकार के खिलाफ नारे लगाए। प्रदर्शनकारियों ने कई गाडिय़ों में तोडफ़ोड़ की और पुलिस की गाड़ी को आग लगा दी।

एक प्रदर्शनकारी ने बताया कि दरगाह में हजारों लोग आते हैं और उनकी जांच के लिए सिर्फ एक स्कैनर लगा है। वह भी सही तरह से काम नहीं करता।

Read Also : ममता जी का आशीर्वाद रहा तो जल्द ही बंगाल दूसरा पाकिस्तान बन जाएगा, ऐसे निष्पक्ष हिंदुस्तान पर शर्मिंदा हूँ!

अगले पृष्ठ पर जाएँ

loading...