शहाबुद्दीन को सजा सुनाने वाले जज ने छोड़ा सीवान, अब नागरिकों का क्या होगा ?

shivaan-ka-jajj

loading...

सिवान : आरजेडी के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के बेल पर जेल से रिहा होने के बाद उन्हें डबल मर्डर केस में उम्र कैद की सजा सुनाने वाले जज ने सीवान छोड़ दिया है। अडिशनल डिस्ट्रिक्ट एेंड सेशन जज (एडीजे) अजय कुमार श्रीवास्तव ने पटना हाई कोर्ट को खुद पत्र लिखकर अपने ट्रांसफर की मांग की थी, जिसे पटना हाई कोर्ट ने मंजूर कर लिया है। इस पत्र में उन्होंने क्या लिखा यह तो मालूम नहीं है, लेकिन सूत्रों की अगर मानें तो उन्होंने शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद अपनी जान को खतरा बताया है। हालांकि बिहार सरकार उन्हें सुरक्षा भी मुहैया कराई है।

loading...

सीवान के पूर्व सांसद शहाबुद्दीन को 7 सितंबर को बेल मिली थी और 10 सितंबर को वह जेल से रिहा हुआ था। पटना हाई कोर्ट ने अजय कुमार के पत्र पर संज्ञान लेते हुए 9 सितंबर को नोटिफिकेशन जारी किया था। हाई कोर्ट ने श्रीवास्तव को पटना ट्रांसफर किया है। शहाबुद्दीन के खिलाफ स्पेशल कोर्ट में चले ट्रायल के दौरान श्रीवास्तव इस कोर्ट के हेड थे।

स्पेशल कोर्ट ने पिछले साल दिसंबर में शहाबुद्दीन को दो भाइयों (सतीश राज और गिरीष राज) की हत्या के जुर्म में उम्र कैद की सजा सुनाई थी। शहाबुद्दीन के गांव प्रतापपुर में अगस्त 2004 में इन दोनों भाइयों पर तेजाब फेंककर उनकी हत्या कर दी थी। जेडीयू के प्रवक्ता अजय आलोक ने बताया, शहाबुद्दीन की रिहाई के बाद राज्य सरकार 20 लोगों को सुरक्षा मुहैया करा रही है।

अगले पृष्ठ पर जाएँ

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.