मोदी 11,500 करोड़ ₹ PNB के लेकर विदेश भाग गया है, जवाहर लाल नेहरू इस्तीफा दे!

विजय माल्या 9 हजार करोड़ रुपये लेकर राज्यसभा में हाजिरी देकर वित्तमंत्री अरुण जेटली से मिलकर शाम को लंदन की फ्लाइट पकड़कर भाग गया था और मोदी सरकार 56 इंच की मजबूती का ढींढोरा पिटकर भक्तों को ढांढस बँधाती दिखी। परसों पंजाब नेशनल बैंक के शेयर क्रैश होकर लुढ़के तो कुछ कुछ संदेह हुआ। मेरा खाता पंजाब नेशनल बैंक में है। 25 जनवरी को मुझे मैसेज मिला कि CBS सर्विस अपडेट की जा रही है इसलिए 29 जनवरी तक सेवाएं अवरुद्ध रहेगी। मैंने सोचा कि शायद 30 को ट्रांजेक्शन हो जाएंगे तो उतावलापन दिखाने की जरूरत नहीं है। एक तारीख को मोबाइल बैंकिंग से कुछ पैसे ट्रांसफर करने थे तो मुझे मोबाइल बैंकिंग बंद मिली। 7 फरवरी तक इंतजार किया लेकिन नेट बैंकिंग चालू नहीं हो पाई। 8 फरवरी को ब्रांच के एटीएम में पहुंचा व 12 हजार रुपये के लिए ट्रांजेक्शन शुरू किया।खाते से पैसे कट गए लेकिन एटीएम ने ट्रांजेक्शन डिक्लाइन कर दिया। टोल फ्री नम्बर पर शिकायत के लिए कॉल किया था तो सब नंबर बंद मिले। प्रिंसिपल नोडल ऑफिसर को लैंडलाइन पर कॉल किया तो वो भी बंद मिला।

जब ब्रांच मैनेजर को कहा तो बोले कि हमारे हाथ मे कुछ नहीं है वो टोलफ्री नंबर ही आपकी समस्या का समाधान है। फिर मैंने ईमेल किया।8 फरवरी के ईमेल का जवाब 12 फरवरी को मिला कि आपकी शिकायत दर्ज कर ली गई है। परसों पंजाब नेशनल बैंक का चेक डाला था वो भी क्लियर नहीं हुआ। आज फिर बैंक जा रहा हूँ। यह कहानी बताने का मकसद यह है कि 25 जनवरी से ग्राहको की भीड़ बैंक में शिकायतें लेकर खड़ी है लेकिन बैंक वाले यह कहते नजर आए कि कल की बजाय आज ही बैंक को बंद कर दिया जाए हमे कोई एतराज नहीं है। कल शाम को खबर मीडिया में आई कि नीरव मोदी 11500 करोड़ रुपये पंजाब नेशनल बैंक के लेकर विदेश भाग गया है। परसों PNB के शेयर गिरते है, कल मीडिया में मोदी के विदेश भागने की खबर आती है व आज सुबह उनके मुम्बई के घर व ठिकाने पर प्रवर्तन निर्देशालय की टीमों के छापे पड़ते है जबकि नीरव मोदी को अंतिम बार घर से निकलते हुए दो महीने पहले देखा जाता है!

मतलब दो महीने पहले ही भागे नीरव मोदी की खबर निवेशकों को चल जाती है, PNB अधिकारियों को पता चल जाता है, ग्राहक परेशान होकर बैंक में जुटना शुरू हो जाते है, शेयर गिर जाते है लेकिन मजबूत मोदी सरकार को आज सुबह पता चलता है कि नीरव मोदी 11500 करोड़ रुपये का चूना लगाकर विदेश भाग गया है। माल्या 9 हजार करोड़ लेकर भागा है व नीरव मोदी साढ़े ग्यारह हजार करोड़ लेकर! देश वाकई तरक्की के पथ पर है!

अगले पृष्ठ पर भी घटना जारी है