मैंने कुछ लोगों की सारी जिंदगी तबाह हो जाए ऐसा दंड दिया है, मेरा साथ दीजिए: मोदी

Click on Next Button

यूनाइटेड हिन्दी संवादाता, आगरा – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ताजनगरी से ‘प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण’ को लांच किया। देश के 18 राज्यों में यह योजना तत्काल लागू हो गई है। इसके तहत मार्च 2019 तक एक करोड़ पक्के मकान उपलब्ध कराए जाएंगे और साल 2022 में देश की आजादी के 75 साल पूरे होने तक सभी गरीबों को अपने घर की सौगात दे दी जाएगी।

modi-agara

आगरा के कोठी मीना बाजार मैदान में परिवर्तन महारैली से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राज्यमंत्री रामकृपाल यादव की मौजूदगी में ‘प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण’ की शुरुआत की। उन्होंने इस योजना में प्रशिक्षित किए गए देश के पांच राजमिस्त्रियों को प्रमाण पत्र और पांच ही लाभार्थियों को सहमति पत्र सौंपे।

पीएम के संबोधन के प्रमुख अंश: 
– कानपुर के पास रेल हादसे की केंद्र सरकार जांच होगी
– सभी मरने और घायल हुए लोगों के प्रति संवेदना प्रकट करता हूं
– सच्चे अर्थों में घर बनाने का काम आज यूपी की धरती से आरंभ कर रहा हूं।
– आवास योजना ग्रामीण के तहत साल 2022 तक गरीबों को सस्ते में मकान उपलब्ध कराए जाएंगे।
– करोड़ों घर बनाने के लिए राजमिस्त्री लगेंगे, सरकार ने युवाओं को राजमिस्त्री बनाने की अभियान चलाया है।
– करोड़ों घर बनने के साथ करोड़ों युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।
– ये एक संपूर्ण योजना है देश के गरीबों के लिए।
– ग्रामीण आवास को लॉन्च किया है। शहरी क्षेत्र हो, ग्रामीण क्षेत्र हो, इसका लाभ ऐसे गरीबों को मिलेगा जिनके पास रहने को घर नहीं।
– प्रधानमंत्री उज्जलवा योजना के तहत गरीब माताओं को गैस चुल्हा मिलेगा।
– धुएं में मां को मरना नहीं पड़ेगा, बच्चों को रोना नहीं पड़ेगा।
– गरीब की जिंदगी में बदलाव आएगा।
– देश में 18 हजार गांव आजादी के 70 साल के बाद भी 18वीं शताब्दी में जीते थे, बिजली उन गांवों में कभी नज़र नहीं आया।
– सबसे ज्यादा गांव यूपी के अंधेरें में पड़े थे, 95 फीसदी काम पूरा हुआ।
– हम निर्धारित समय में गरीबों के काम को प्रथामिकता देते हुए आगे बढ़ रहे हैं।
– देश को भ्रष्टाचारियों, कालाबाजारियों, कालेधन से मुक्त कराने के लिए मैंने जो बीड़ा उठाया है उसको गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों का समर्थन मिला।
– मैंने 50 दिन मांगें हैं, मैं हैरान हूं मेरे देशवासी तकलीफ झेलने के बाद भी इस मुहिम को समर्थन दे रहे हैं।
– देश सोने की तपकर बाहर निकलेगा।
– 8 तारीख के बाद मोदी ने 500-1000 के नोट पर हाथ लगाया।
– 8 तारीख के बाद पाई-पाई चुकता करनी पड़ी है।
– 5 लाख करोड़ के ज्यादा की रकम बैंकों में जमा करायी गई है।
– भ्रष्टाचार के कारण मां-बाप अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा नहीं दिलवा पाते।
– उन्हें सफेद को काले में बदलना पड़ता है।
–  पूरी कॉलोनी को कुछ लोगों ने बर्बाद करने मध्यमवर्गीय व गरीबों को लूटा है।
– 500-1000 के नोटों को बंद करने असुविधा हो रही है, लेकिन गरीब के हक का पैसा लूटना वालों की सारी जिंदगी लूट ली है।
– कुछ बेइमान लोग देश के ईमानदार लोगों को जीने नहीं देते। उसकी रक्षा करना सरकार का दायित्व है।
– गरीब को उसका हक चाहिए, बीच के लुटेरों के कारण उसको हक नहीं मिल पा रहा है।
– कम ब्याज में पैसा गरीबों को मिलने वाला है।
– बैंकों के पास पैसा आएगा तो ब्‍याज दर में होगी कटौती।
– देश में फैला आर्थिक आतंकवाद देश को गर्त में ले जाता है।
– 500-1000 के नोटों को बंद करने के बाद जाली नोट के कारोबार को करारा झटका लगा है।
– क्या सेना के जवानों को मरने देना चाहिए, कब तक चुप रहेगा देश?
– 70 साल तक चुप रहा देश, और कब तक?
– पहले की सरकारों को केवल कुर्सी की चिंता रही है।
– मैंने ये फैसले किसी को परेशान करने के लिए नहीं, भावी पीढ़ी का भविष्य सुधारने के लिए किया।
– मैंने 50 दिन मांगे हैं, 50 दिन तकलीफ रहेगी।
– मैंने कुछ लोगों की सारी जिंदगी तबाह हो जाए ऐसा दंड दिया है।
– गरीबों के जनधन अकाउंट पर कालाधन वालों की नज़र।
– कानून सख्त है, दूसरों के खाते का पैसा अपने अकाउंट में जमा न कराएं।
– ये गरीबों, किसानों, मध्यमवर्गीय लोगों, आदिवासियों को बचाने के लिए योजना है।
–  चिटफंड में लोगों का पैसा लगा था और उसके कारण बहुत लोगों को जान देनी पड़ी और आज ये लोग मेरे ऊपर उंगली उठा रहे हैं।
– क्या देश नहीं जानता चिटफंड के कारोबार में किसके पैसे लगे थे। लाखों, करोड़ों गरीबों में चिटफंड में पैसा जमा कराया।
– उत्तर प्रदेश के लोगों ने बिकने वाला माल नहीं चुना है।
– मैं आपके लिए लड़ूंगा, लुटेरों से बचाने के लिए लड़ूंगा।
– मेरा साथ दीजिए…भारत माता की जय।
पीएम मोदी के आगरा दौरे को देखते हुए सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे।  पीएम मोदी की रैली के लिए कोठी मीना बाजार को सुरक्षा के अभेद किले में तब्दील कर दिया गया है। उनकी सुरक्षा में कुल 2500 सुरक्षाकर्मी लगाए गए हैं। बता दें कि पीएम मोदी की आगरा में नवंबर, 2013 के बाद ये पहली जनसभा हुई।
Click on Next Button

To Share it All 🇺🇸🇮🇹🇩🇪NRI Citizens