अक्षय की इस फिल्म का हो रहा कड़ा विरोध, डायरेक्टर की जुबान काटने पर 1 करोड़ का इनाम

Click on Next Button

बॉलीवुड सुपरस्टार अक्षय कुमार की फिल्म ‘टॉयलेट एक प्रेम कथा’ पर लोगों का गुस्सा फूट पड़ा है जिसके चलते फिल्म पर कई मुश्किलों के बादल छा गए हैं। मथुरा के धार्मिक संतों ने फिल्म में नंदगांव और बरसाना गांव के लड़का-लड़की की शादी दिखाने पर नाराजगी जाहिर की है।toilet-ek-premkatha

इतना ही नहीं सोमवार को हुई एक धार्मिक महापंचायत में फिल्म के डायरेक्टर की जुबान काटने पर 1 करोड़ के इनाम की घोषणा तक कर दी गई है। बरसाना गांव में हुई इस महापंचायत में संतों ने डायरेक्टर पर फिल्म में शादी के इस सीन से लोगों की भावनाएं आहत करने का आरोप लगाया है।

अक्षय की फिल्म का विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि ऐसा दिखाकर सालों से चली आ रही गांव को परंपरा को तोड़ा गया है, जिसके मुताबिक इन दो गांव के लड़का-लड़की आपस में शादी नहीं कर सकते। क्योंकि लंबे समय से दोनों गांवों के बीच शादी ना करने का रिवाज है। दरअसल इनमें से एक गांव भगवान कृष्ण और दूसरा राधा का है।

संतों की महापंचायत में 200 से ज्यादा लोग इकट्ठा हुए, जिसमें 6 गांव के प्रधान, संत और स्थानीय लोग भी शामिल थे। इस महापंचायत से तीन दिन पहले ही बरसाना पंचायत के 20 प्रधानों ने शादी के इस दृश्य के खिलाफ याचिका दायर की थी।

अक्षय की यह फिल्म एक ओर तो प्रधानमंत्री के ‘स्वच्छ भारत’ अभियान को समर्थन करती है तो दूसरी ओर सफाई का ध्यान नहीं रखने वालों के लिए चुभते व्यंग्य के बीच दर्शकों को हास्य परोसती है।

इस फिल्म में एक्टर अक्षय कुमार लीड रोल निभा रहे हैं। फिल्म के डायरेक्टर नारायण सिंह ने बताया कि यह फिल्म नायिका प्रधान और महिला सशक्तिकरण व स्वछता अभियान पर आधारित है। फिल्म बरसाना और नंदगांव के रिश्तों पर नहीं है। फिल्म के अंदर एक ही गांव के नाम का उल्लेख है। धार्मिक और सामाजिक भावनाओं का पूरा ध्यान रखा गया है। फिलहाल हमें प्राप्त जानकारियों के अनुसार, विवाद को बढ़ता देख फिल्म के निर्देशक ने प्रेसवार्ता कर साफ कर दिया है कि फिल्म में बरसाना और नंदगांव के वैवाहिक संबंधो का सीन बिल्कुल नहीं दिखाया जाएगा।

Click on Next Button

To Share it All 🇺🇸🇮🇹🇩🇪NRI Citizens