विडियो देखिए : राष्ट्रभाषा हिंदी का भद्दा मजाक उड़ाने वालो को करारा जवाब…

ये कहाँ से तय किया गया मानक है ?
loading...
ये कहाँ से तय किया गया मानक है ?

हिंदी भारत देश की राष्ट्रभाषा होते हुए भी कई लोग इसे बोलने में शर्म महसूस करते है। और ऐसा सिर्फ एक जगह की बात नहीं है बल्कि हजारो जगहों पर ऐसा ही देखने को मिलता है। स्कूल में कॉलेज में ऑफिस में रिश्तेदारों में जो भी जितनी ज्यादा तेज अंग्रेजी बोलेगा वो उतना ही ज्यादा सभ्य माना जाएगा। ये कहाँ से तय किया गया मानक है ?

हिंदी का मजाक उड़ने वालो को इस विडियो में देखिये कैसे इस आदमी ने दिया है करारा जवाब…  इसे ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचाये ताकि वो सभी इसे देख सके जो अपनी मात्र भाषा का भद्दा मजाक बनाते है। ये जवाब है उन सभी के लिए जो अपनी मात्र भाषा को निचा दिखा कर जबरन अंग्रेजी के पीछे भागते है।

loading...

विडियो देखिए

अगले पृष्ठ पर जाएँ

loading...