भूल जाएं मेट्रो, गुड़गांव में अब यह ‘खास’ ट्रेन चलाने की तैयारी….

caterpillar train
caterpillar train

नई दिल्ली (यूनाइटेड हिन्दी) – ट्रैफिक जाम की भयंकर समस्या झेल रही साइबर सिटी में ट्रैफिक सिस्टम को और भी मजबूत करने की दिशा में एक और अध्याय जुड़ने वाला है। यहां के लिए हरियाणा सरकार कैटरपिलर ट्रेन चलाने की योजना बना रही है। शहर में लास्ट माइल कनेक्टिविटी स्थापित करने के लिए फिलहाल 4 रूटों की पहचान कर ली गई है। इनमें से अगले 15 दिन में किसी एक रूट को फाइनल कर लिया जाएगा। इसके रूट इस तरह से बनाए जाएंगे कि कैटरपिलर ट्रेन की कनेक्टिविटी दिल्ली मेट्रो से स्थापित हो सके। इसके निर्माण में मेट्रो से कम लागत आएगी, जिससे इसका किराया भी कम होगा।

manohar-lalसीएम को पसंद आया कैटरपिलर मॉडल
गुड़गांव में कैटरपिलर ट्रेन के संचालन का प्लान बनाने वाले इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (आईआरटीएस) के इंजीनियर अश्वनी कुमार उपाध्याय का कहना है कि सिंगापुर एमआईटी अलाइंस फॉर रिसर्च एंड टेक्नॉलजी में स्टडी के दौरान इस ट्रेन का आइडिया जनरेट हुआ। करीब 3 साल तक टेक्नॉलजी पर रिसर्च व स्टडी के बाद यह प्लान फाइनल शेप में आया। उनका कहना है कि कुछ दिन पहले ही उन्होंने इंडिया में कैटरपिलर ट्रेन संचालन का मॉडल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिखाया था। उस दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल भी मौजूद थे। बाद में मनोहर लाल ने उन्हें दिल्ली स्थित हरियाणा भवन बुलाया और कैटरपिलर ट्रेन का पूरा मॉडल देखा। उसके बाद गुड़गांव में भी कैटरपिलर ट्रेन के संचालन का प्लान बनाया गया।

आगे पढ़िये : गुड़गांव में 4 रूटों की हुई स्टडी

loading...

Prev1 of 2Next
अगले पृष्ठ पर जाएँ

loading...