बीजेपी सांसद ने बीजेपी सरकार के खिलाफ खोला मौर्चा, पदोन्नति में आरक्षण कानून बनाने की मांग

नई दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी के सांसद एवं दलित नेता उदित राज ने अपनी ही भाजपा सरकार के खिलाफ आरक्षण की मांग को लेकर मौर्चा खोल दिया। उन्होंने  निजी क्षेत्र और पदोन्नति में आरक्षण के लिए कानून बनाने की मांग को लेकर आन्दोलन करने की चेतावनी दी हैं।

 

uditraaj

उन्होंने कहा है कि जातिगत आरक्षण का विरोध किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं होगा समाज में जब तक जाति नहीं टूटेगी तब तक आरक्षण व्यवस्था होनी चाहिए। दलित उत्पीड़न को लेकर उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार में हम दलितों पर अत्याचार बढ़ा है चाहे ऊना की घटना हो या हैदराबाद की।

loading...

उन्होंने आगे कहा कि सरकार चाहे किसी भी दल की हो, दलितों पर अत्याचार कम नहीं हो सकता! क्योंकि सामाजिक व्यवस्था ही ऐसी है। उन्होंने आन्दोलन के बारें में जानकारी देते हुए कहा कि यह आंदोलन 26 नंवबर को शुरू होगा। सके बाद 28 नवंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान में रैली कर निजी क्षेत्र में आरक्षण नीति लागू कराने की मांग की जायेगी।

उदित राज ने चेतावनी देते हुए कहा कि आरक्षण के साथ छेड़छाड़ किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा, जन्म और जाति के आधार पर ही जमीन का मालिक, पुजारी तय होता है और सम्मान मिलता है तो जाति के आधार पर आरक्षण मिलने में कुछ भी गलत नहीं है।

अगले पृष्ठ पर जाएँ

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published.