बाबा रामदेव से जुड़े आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप अमीरों में शामिल

Click on Next Button

nepali-acharya

नई दिल्ली – पंतजलि आर्युवेद के प्रमोटर और योग गुरु बाबा रामदेव के सबसे विश्वासपात्र आचार्य बालकृष्ण देश के टॉप अमीरों की सूची में शामिल हो गए हैं। बालकृष्ण को Hurun India Rich List 2016 में 25वें स्थान पर रखा गया है। उनकी कुल संपत्ति 25,600 करोड़ बताई गई है। जानकारी के मुताबिक साल 2016 में एफएमसीजी (FMCG) सेक्टर में करीब 11% पर्सेंट की ग्रोथ देखी गई है। पतंजलि तेजी से इस सेक्टर में आगे बढ़ रहा है और दूसरी मल्टीनेशनल कंपनियों के मार्केट शेयर को कम करता जा रहा है। पतंजलि का रजिस्टर्ड टर्नओवर 5000 करोड़ है, जिसके 2017 में दस हजार करोड़ रुपए तक होने की उम्मीद है।

 
लिस्ट के मुताबिक FMCG सेक्टर में डाबर के आनंद बर्मन सबसे अमीर शख्स है। उनकी कुल संपत्ति 41,800 करोड़ रुपए है। ब्रिटानिया के नुसली वाडिया इस लिस्ट में बर्मन के नीचे है। उनकी कुल संपत्ति 20,400 करोड़ है। पतंजलि आयुर्वेद भारत की तेजी से बढ़ती हुई कंपनियों में से है। वह मल्टी नेशनल कॉर्पोरेशन्स को कड़ी टक्कर दे रहा है।

 
हुरुन इंडिया रिच लिस्ट के मुताबिक भारत के टॉप-10 रईसों में मुकेश अंबानी पहले पायदान पर है। उनकी कुल संपत्ति 1,63,400 करोड़ रुपए बताई गई है। दूसरे नंबर पर सन फार्मा के दिलीप सांघवी है, उनकी संपत्ति 1,21,500 करोड़ रुपए बताई गई। इनके बाद इस लिस्ट में तीसरे स्थान पर पनोलजी मिस्त्री (101,100 करोड़ रुपए), चौथे नंबर पर हिंदुजा फैमिली (100,700 करोड़) और पांचवे नंबर पर साइरस पूनावाला (83,000 करोड़) हैं। लिस्ट में Paytm के विजय शंकर शर्मा को भी शामिल किया गया है, इनकी संपत्ति में 162 पर्सेंट की वृद्धि हुई है। वर्तमान में इनकी संपत्ति 7,300 करोड़ बताई गई है।

 
अमीरों की संख्या के मामले में मुंबई का इस बार भी दबदबा बना हुआ है। लिस्ट में शामिल रईसों में 30 पर्सेंट लोग मुंबई में रहते हैं। दूसरे स्थान पर दिल्ली है, जहां 19 पर्सेंट लोग रहते हैं और तीसरे नंबर पर बेंगलुरु है, यहां पर 8 प्रतिशत अमीर रहते हैं। भारत की सबसे रईस महिलाओं में सबसे ऊपर सावित्री जिंदल का नाम है। सावित्री जिंदल की कुल संपत्ति 35,000 हजार करोड़ रुपए हैं।

Click on Next Button

To Share it All 🇺🇸🇮🇹🇩🇪NRI Citizens

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *